जौ के फायदे, उपयोग और नुकसान | Barley in Hindi

Barley in hindi

Barley in Hindi (जौ) को पानी के साथ मिलाकर पकाया जाता है। हम लोग जौ के पानी को कभी -कभी निम्बू पानी के सामान पीते है| जौ के पानी का सेवन प्रतिदिन कर सकते है परन्तु ध्यान रहे की दिन में सिर्फ दो बार ही कर सकते हो। यह पानी पिने में बहुत ही कड़वा होता है। इसको आप मीठे फलों के रस में भी मिलाकर पी सकते है। अब हम आपको जौ के पानी से स्वास्थ पर होने वाले लाभ, फायदे और इसके साइड इफ़ेक्ट के बारे में बताएंगे।

जौ का पानी कैसे बनाये ( How to Make Barley Water in Hindi)

जौ को पानी में मिला कर रख दे और कम से कम 4 घंटे के लिए पानी में भिगो दे। इसके बाद जौ को अच्छे से छान ले। एक कप भिगोए हुए जौ के अंदर 3 से 4 कप पानी मिलाये। अब इसे गैस पर उबाले और लगभग 1 घंटे तक ढक कर पकने दे। जब पक कर नरम हो जाए तो इसे गैस से उतार ले और अब इसे ठंडा होने दे,अब इसे एक कप में छान ले। अच्छी सेहत पाने के लिए रोजाना 1 से 2 कप जौ का पानी पिये। अगर इसके स्वाद में सुधार लाने के लिए और स्वास्थ लाभ बढ़ाना है तो इसमें नींबू का रस और शहद भी मिला सकते है।बचे हुए पानी को आप 3 दिन तक फ्रीज में भी रख सकते है। अगर छानने के बाद जौ का पानी बच जाए तो वो पानी आप खिचड़ी और सुप में भी मिला सकते है।

जौ के पानी के लाभ (Barley Water Benefits in Hindi)

कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए (Barley Water for Low Cholesterol in Hindi)

जौ का पानी और जौ की चाय पीने से हमारे शरीर के कोलेस्ट्रॉल को कम किया जा सकता है। जिससे हमारा हृदय स्वस्थ रहता है।

मधुमेह को नियंत्रण रखने के लिए (Barley Water for Diabetes in Hindi)

मधुमेह की समस्या वाले मरीजों के लिए जौ का पानी बहुत ही फायदेमंद होता है। अगर आप रोज जौ का पानी पियेंगे तो मधुमेह की समस्या ठीक हो जाएगी। जौ के अंदर मोजूद तत्व शुगर के स्तर को लेवल में रखता है,और इस समस्या से रोगी बच जाता है।

वजन घटाने में (Barley Water for Weight Loss in Hindi)

जौ का पानी वजन घटाने में बहुत फायदेमंद होता है।यदि आप वजन घटाने के लिए हर बार कुछ नया ट्राई करते है, तो एक बार ये उपाए भी करके देखिये आप कुछ दिनों तक खाली पेट जौ के पानी पिने की आदत डाल ले। इससे आपका वजन तो कम होगा ही और साथ में किसी भी तरह की कोई बीमारी भी नहीं होगी।

त्वचा को चमकदार बनाने के लिए (Barley Water Benefits for Skin in Hindi)

जौ के पानी के अंदर मिनरल्स और विटामिन सी के साथ एंटीऑक्सीडेंट तत्व भी होते है। यह हमारी त्वचा को ढीला होने से रोकता है। जिसके कारण आपकी त्वचा समय से पहले बूढ़ी नहीं लगती है और त्वचा भी सुन्दर दिखती है।

पेशाब के संक्रमण का उपचार (Barley Water for Urinary tract infection in Hindi)

बाहर का उल्टा सीधा खाना खाने से हमारे शरीर के अंदर ऐसे तत्व जमने लगते है, जिससे हमें उलटी, पेट दर्द और अन्य बीमारियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए आप जौ ले और उसका पानी बनाकर पी ले। इससे आपकी पेशाब के जरिये सारे विषाक्त चीज़े निकलती है और आप राहत की सांस लगे। (अधिक जानकारी:-यूरिन इन्फेक्शन क्या है? लक्षण और बचाव)

जौ के पानी पिने से नुकसान (Side Effects and Risks of Barley Water in Hindi)

जौ का पानी हमारे स्वास्थ के लिए अच्छा है इसका मतलब ये नहीं की आप कितनी भी मात्रा में इसका सेवन कर सकते है। जौ का पानी अधिक मात्रा में पिने से निम्नलिखित समस्याए हो सकती है।

  • जब भी आप किसी चीज़ का सेवन करते है तो उसके पहले उसके बारे में जान ले, जैसे जौ के पानी के अंदर मिलाई गयी सामग्री के बारे में भी जान ले और उसके बाद ही इसका सेवन करे।
  • जौ के अंदर फाइबर की मात्रा ज्यादा होने के कारण आपको दस्त और कब्ज की बिमारी हो सकती है।
  • जौ के पानी के अंदर बहुत कैलोरी की मात्रा होती है, इसलिए आप एक ही बार में बहुत ज्यादा जौ के पानी का सेवन नहीं करे।

जौ से आपको बहुत से साइड इफ़ेक्ट हो सकते है पर जरुरी नहीं की ये साइड इफ़ेक्ट हो ही। अगर आपको जौ से हुए कोई भी साइड इफ़ेक्ट का पता चलता है तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करे और अपने दुष्प्रभावों के बारे में बताये।

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*