तुलसी (Basil) की जानकारी इसके फायदे, उपयोग और नुकसान | Basil in Hindi, Uses of Tulsi in Hindi,

basil in Hindi

तुलसी (Basil in Hindi) एक औषधीय पौधा होता है, जो भारत में सभी जगह पाया जाता है। इसे भारत में पवित्र माना जाता है तथा इसकी पूजा भी की जाती है। यह हिन्दू धर्म का एक धार्मिक पेड़ होता है। जिसे घर के आँगन में लगाया जाता है। इसे आँगन में लगाने के पीछे बहुत से कारण होते है। इसे आँगन में लगाने से घर में एक पॉजिटिव एनर्जी रहती है और कई रोग दूर हो जाता है या इसे आँगन में लगाना शुभ माना जाता है। इसकी पूजा करने के साथ-साथ इसके कई फायदे (tulsi ke fayde) होते है जैसे इसमें बहुत से खनिज पदार्थ पाए जाते है और यह दिन भर आक्सीजन देने का भी काम करती है। इसके पत्ते का सेवन करने से कई रोगो को कम किया जा सकता है। यह हमारे शरीर के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है।
तुलसी का पौधा बहुत ही प्राचीन पौधा है तथा इसका इस्तेमाल कोई भी कर सकता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते है। इसका सेवन बच्चो से लेकर बूढ़े और बड़े लोग कर सकते। इसका कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है, महिलाए भी इसका सेवन कर सकती है।

तुलसी (Tulsi) के फायदे और उपयोग (Basil Benefits and Uses in Hindi)

तुलसी (Basil in hindi) का पौधा आंगन में लगाना बहुत ही शुभ माना जाता है। इसके पत्ते का सेवन करने से विभन्न रोगो का निवारण किया जाता है। इसके उपयोग से निम्नलिखित फायदे (tulsi ke fayde) होते है।

तुलसी खाने के लाभ कैंसर के लिए (Basil Leaves for Cancer in Hindi)

अगर आप रोज तुलसी (Basil in hindi) के पत्ते खाते है, तो यह आपको हर प्रकार के संक्रमण और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारियों से बचाता है। महिलाओं के स्तन कैंसर और किसी भी प्रकार के मुँह में होने वाले कैंसर से बचाता है। अगर आप घर में तुलसी का पौधा लगाते है, तो आपके लिए बहुत अच्छा है| क्योकि आप रोज ताजे पत्तो का सेवन कर सके जो कैंसर को रोकने में सहायक होता है।

हार्ट के लिए फायदेमंद है तुलसी (Healthy Heart Benefits in Hindi)

अगर हम बात करे सबसे ज्यादा होने वाली बीमारी तो वो हार्ट अटैक की, इस बीमारी से ग्रसित होकर हर साल बहुत सारे लोग मारे जाते है। हार्ट की बीमारी बुजुर्ग लोगो के साथ-साथ युवा पीढ़ी को भी हो रही है। अगर हम रोज तुलसी खाते है, तो हमारे हार्ट सम्बन्धी 90% समस्या कम हो जाती है। जिससे हमारा हार्ट स्वस्थ रहता है।

सिरदर्द में आराम  (Headache Gets Relief from Basil in Hindi)

दिनभर काम करके थक जाते है, इस कारण से भी आपके सिर में दर्द होने लगता है, या आपको माइग्रेन के कारण सिर में दर्द हो रहा है। तो आप ऐसे में तुलसी के पत्तो को गुनगुने पानी में उबालकर पिये इससे भी आपको आराम मिलेगा या फिर आप चाय में तुलसी की 5-6 पत्तियां मिला ले इससे भी आपको सिरदर्द में आराम मिलेगा।

तुलसी के फायदे त्वचा संक्रमण के लिए (Benefits of Basil for Skin Infection in Hindi)

बहुत बार हमारे चेहरे पर काले धब्बे और कई तरह के दाग हो जाते है, परन्तु कई बार एलर्जी के डर से हम क्रीम का इस्तेमाल भी नहीं कर पाते है| ऐसे में आप तुलसी के पत्तों और निम्बू को बराबर मात्रा में मिलाये और दाग के ऊपर लगाए। अगर आप तुलसी के पत्तो को बेसन के साथ मिलाकर पेस्ट बनाये और चेहरे पर लगाए इससे दाग साफ़ होते है,और चेहरा भी निखारता है।

ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करती है तुलसी (Basil (Tulsi) Control Blood Pressure in Hindi)

अगर आपको ब्लड प्रेशर की तकलीफ है, तो आपको रोज सुबह तुलसी के पत्तों को पानी में घोलकर सेवन करना चाहिए। इससे आपका ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है। इससे हमारी हार्ट सम्बंधित बीमारियां भी कम हो जाती है।

मुहासों की तकलीफ को दूर करती है तुलसी (Basil for Pimples in Hindi)

अगर आपको मुहासों की ज्यादा तकलीफ है, तो यह जड़ीबूटी मुहासों की समस्या से आपको राहत दिलाता है। सबसे पहले आप तुलसी के ताजे पत्ते ले और उसका रस निकालकर चेहरे पर लगाए। इससे आपकी त्वचा कोमल और स्वस्थ भी रहती है,और किसी भी तरह का साइड इफ़ेक्ट भी नहीं होता है।

तुलसी के फायदे बाल झड़ने के लिए (Basil for Hair Problem in Hindi)

आपके बाल अगर बहुत ज्यादा झड़ते है, तो आप केमिकल शैम्पू का बिलकुल उपयोग नहीं करें। बल्कि इसकी जगह आप तुलसी के पत्तों का उपयोग करें इससे आपके बाल मजबूत और शाइन भी करने लगेंगे। बाल झड़ने की समस्या का उपाए है की आप घर पर ही तुलसी का शैम्पू बनाये।

तुलसी के फायदे रूखे बालो के लिए (Basil for Dry Hair in Hindi)

रूखे बालों के लिए तुलसी बहुत अच्छा उपाए है सबसे पहले नारियल के तेल में तुलसी के पत्तों को कुचलकर मिला ले और जब भी उपयोग करें उससे पहले इसे थोड़ा उबाल ले। इससे आपके बाल काले और अच्छे रहने में भी सहयोग मिलता है। इस उपाए को रोजाना करने से आपके बाल खूबसूरत दिखते है।

तनाव और चिंता को दूर करने के लिए फायदेमंद है तुलसी  (Basil for Relieve Stress in Hindi)

अगर आपको बहुत ज्यादा मानसिक तनाव रहता है और यह आपके डेली रूटीन को प्रभावित कर रहा है। तो आप एक गिलास पानी ले और उससे तुलसी के पत्तों का सेवन करें इससे आपको जल्दी राहत मिलने लगेगी। रोज तुलसी की पत्तियों का सेवन करने से स्ट्रेस और डिप्रेशन की समस्या से आपको बहुत आराम मिलेगा।

तुलसी के दुष्प्रभाव और नुकसान (Basil Side Effects in Hindi)

तुलसी (Basil in hindi) के वैसे तो बहुत सारे फायदे (tulsi ke fayde) है, लेकिन आप इसका सेवन अधिक मात्रा में करेंगे तो वो आपको नुकसान तो करेगी ही। अगर आप गलत तरीके से या अधिक मात्रा में तुलसी का सेवन करते है तो आपको बहुत से दुष्प्रभाव हो सकते है। आइये जानते है तुलसी के दुष्प्रभाव।

  • तुलसी का सेवन हमेशा सिमित मात्रा में ही करना चाहिए क्योकि तुलसी बहुत गर्म रहती है और ज्यादा मात्रा में इसके सेवन से आपको पेट में जलन होने की संभावना होती है।
  • अदरक और तुलसी की चाय ज्यादा मात्रा में पिने से आपको सीने में जलन, एसिडिटी और पेट में जलन जैसी तकलीफ हो सकती है।
  • तुलसी का सेवन प्रेग्नेंसी के दौरान नहीं करना चाहिए। अगर आप प्रेग्नेंसी और स्तनपान के दौरान तुलसी का उपयोग कर रहे तो डॉक्टर से सलाह लेकर ही करें।
  • अगर आपने हाल ही में कोई सर्जरी करवाई है तो आप तुलसी का सेवन बिलकुल न करें क्योकि तुलसी खून की प्रक्रिया को धीमी कर सकती है।
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*