बीकेडेक्सामिन कैप्सूल क्या है? इसके फायदे, नुकसान और उपयोग | Becadexamin Capsule Benefits, Uses and Side Effects in Hindi

becadexamin capsule in hindi

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल (Becadexamin Capsule in Hindi) का उपयोग हेल्थ सप्लीमेंट के रूप में किया जाता है। जो आप के शरीर में पोषण तत्व और प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करता है। इस टेबलेट का उपयोग विटामिन,त्वचा रोग,नेत्र में समस्याए,पेट में गड़बड़ी, विटामिन डी की कमी,अपच की समस्याए,मानसिक समस्याए और मिनरल्स की कमी को दूर करने के लिए भी किया जाता है। आज हम आप को इस पोस्ट के माध्यम से बीकेडेक्सामिन कैप्सूल क्या है। इसको  खाने के फायदे, और साइड इफ़ेक्ट क्या होते है। इसके बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल के फायदे और उपयोग (Becadexamin Capsule Benefits and Uses in Hindi)

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल का उपयोग निम्नलिखित लक्षणों के सुधार में उपयोग किया जाता है।

यदि आप को उपरोक्त बताए गए लक्षणों में से कोई भी है, तो आप इस टेबलेट का उपयोग कर सकते हो। अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से भी संपर्क कर सकते है।

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल के दुष्प्रभाव /नुकसान (Becadexamin Capsule Side Effect in Hindi)

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल का उपयोग करने से आप को दुष्प्रभाव भी हो सकते है, लेकिन आप को इसका एहसास नहीं होगा। निचे कुछ ऐसे लक्षण है, जो इस टेबलेट का सेवन करने से होते है। इसके अलावा आप डॉक्टर से भी संपर्क कर सकते है और उनसे सलाह ले सकते है।

  • कब्ज
  • शरीर में कमजोरी।
  • अनिंद्रा
  • चक्कर आना।
  • सिरदर्द करना।
  • एलर्जी
  • अधिक प्यास लगना।
  • भूख न लगना।
  • पेट दर्द
  • त्वचा में खुजली।
  • उलटी
  • मतली

उपरोक्त बताए गए सूचि में से यदि आप को किसी भी लक्षण का आभास हो तो आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते हो या नजदीकी मेडिकल स्टोर पर जाकर भी इसके बारे में जानकारी ले सकते हो।

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल में इस्तेमाल होने वाली सामग्री (Ingredients of Becadexamin Capsule in Hindi)

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल को निम्नलिखित के मिश्रण से निर्मित किया जाता है।

  • विटामिन बी १२ (Vitamin B12) – 5MCG
  • विटामिन डी ३(Vitamin D3) – 400 IU
  • जिंक सल्फेट (Zink Sulphate) -50MG
  • विटामिन बी1(VitaminB1) – 5MG
  • विटामिन बी2(VitaminB2)  – 5MG
  • विटामिन बी 6(VitaminB6) – 2MG
  • फेरस fumarate (Ferrous Fumarate) – 50MG
  • निकोटिनामाइड (Nicotinamide) – 45MG
  • विटामिन A (Vitamin A) – 5000IU
  • विटामिन C(Vitamin C) – 75MG
  • विटामिन E (Vitamin E) – 14MG
  • डी –पैंथेनॉल (D-panthenol) -5MG

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल कैसे काम करता है। (How Becadexamin Capsule Work in Hindi)

इस दवा का उपयोग हेल्थ सप्लीमेंट (health supplements) के रूप में किया जाता है। यह शरीर को मिनरल्स और विटामिन्स प्रदान करते है जिसके कारण हमारे शरीर ऊर्जा और शक्ति प्रदान होती है। यह टेबलेट शरीर को स्वस्थ रखने में भी मदत करती है।

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल को इस्तेमाल करते समय सावधानियाँ (Becadexamin Capsule Precaution in Hindi)

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल को इस्तेमाल करते समय निम्नलिखित बातो को ध्यान में रखने की आवश्यकता होती है। यदि आप को पहले से ही कोई बीमारी है तो इसके बारे में डॉक्टर को बताए अन्यथा इसके आप को नुकसान भी हो सकता है।

  • यदि आप को किडनी से संबधित कोई समस्या है, तो आप इस टेबलेट का सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • यदि आप को इसमें मौजूद सामग्री से एलर्जी है, तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • एल्कोहल के साथ इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • स्तनपान करवाते समय इस टेबलेट को उपयोग में लेन से पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • गर्भवस्था के समय इस कैप्सूल का सेवन करते समय डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • यदि आप किसी भी प्रकार के विटामिन का सेवन कर रहे हो तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही इस कैप्सूल का सेवन करे।
  • यदि आप की आंत में कोई फोड़ा है तो इस टेबलेट का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य ले।

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल की पारस्परिक क्रिया (Drug Interaction of Becadexamin Capsule in Hindi)

यदि आप बीकेडेक्सामिन कैप्सूल के साथ किसी अन्य दवाई का सेवन करते है, तो आप को इसका असर आप के शरीर पर दिखाई देता है। यदि इस्तेमाल करते समय आप को ऐसी कोई परेशानी होती है, तो आप को डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। निम्नलिखित कुछ ऐसी दवाइया होती है जिनके साथ इस टेबलेट का उपयोग करने से पारस्परिक क्रिया होती है।

  • Biotin
  • Captopril
  • Alcohol
  • Ascorbic Acid
  • Birth Control pills
  • Amiodarone

बीकेडेक्सामिन कैप्सूल का अधिक मात्रा में सेवन करने पर होने वाले लक्षण (Becadexamin Capsule Overdose Symptoms in Hindi)

यदि आप इस टेबलेट का सेवन अधिक मात्रा में सेवन करते है,तो आप के शरीर पर इसका दुष्प्रभाव भी पड़ सकता है। निम्नलिखित कुछ ऐसे लक्षण होते है जो इस टेबलेट के ओवरडोज के कारण होते  है।

  • चक्कर आना।
  • उलटी होना।
  • मतली
  • त्वचा में खुजली।
  • शरीर में कमजोरी।
  • अधिक प्यास लगना।
  • एलर्जी
  • शरीर पर लाल चकते पड़ना।
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*