सेफीक्सीमी टैबलेट क्या है? (Cefixime tablet in Hindi)

cefixime tablet in Hindi

सेफीक्सीमी टैबलेट (cefixime tablet in hindi) एक तरह का एंटीबायोटिक होता है| जिसका उपयोग बेक्टेरिया को ख़त्म करने के लिए किया जाता है। सेफीक्सीमी टेबलेट का प्रयोग बेक्टेरिया के कारण होने वाले संक्रमणों का इलाज करने के लिए किया जाता है। बेक्टेरियल इंफेक्शन जैसे:-कान का इंन्फेक्शन, गले का इंन्फेक्शन, निमोनिया और  यूरिन इंन्फेक्शन आदि में सबसे ज्यादा यूज़ होने वाली दवा है। यह जीवाणुओं के विकास को रोककर एंटीबायोटिक के रूप में इसे रोकने का काम करता है। इसका उपयोग ब्रोंकाइटिस, गोनोरिया (यूं  संचारित रोग ) आदि संक्रमणों को रोकने के इलाज के लिए किया जाता है। सेफीक्सीमी टैबलेट यह संक्रमण को रोकाने का काम करता है, फ्लू वाले संक्रमण को यह नहीं रोक सकता।सेफीक्सीमी टैबलेट १२ से १४ घंटो के अंतराल पर लिया जाता है। यह हर दिन एक समय अंतराल में लिया जाता है। यह संक्रमण को एंटीबायोटिक की तरह रोकने का काम करता है। यदि आप इसका अधिक मात्रा में उपयोग करते हो तो यह भी खतरनाक होता है। इसका इस्तेमाल मूत्र मार्ग, त्वचा,कान, हड्डियों, फेफड़ो और महिलाओं के जननांग में होने वाले बैक्टीरिया को ख़त्म करने के लिए किया जाता है। यदि आप इस दवाई का ओवरडोज़ लेते हो तो इसके आप को साइड इफ़ेक्ट भी हो सकता है। इस दवाइयों का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए। गर्भवती महिलाओं को इस दवा का यूज़ नहीं करना चाहिए। यदि कोई महिला गर्भवती है, या गर्भवती होने की प्लानिंग कर रही है तो यूज़ इस दवा लेने से बचाना चाहिए।भारत में कई फरमासुइटीकल कम्पनिया है। जो इन दवाइयों का निर्माण करती है। बाजार में  यह दवाईयॉ अलग-अलग नाम से जनि जाती है| परन्तु इन सब का काम एक ही होता है।

सेफीक्सीमी टेबलेट का उपयोग (Cefixime tablet uses in Hindi)

सेफीक्सीमी टेबलेट का उपयोग (cefixime tablet uses in hindi) बेक्टेरिया का संक्रमण जैसे:- कान, नाक,साइनस,छाती,फेफड़ो,गले, सामान्य टायफॉइड और मूत्र प्रणाली से संबधित इलाज के लिए किया जाता है। इस दवा को उतनी ही मात्रा में लेना चाहिए जितनी आप के डॉक्टर ने आप को बताया गया है।

इसे आप सीधा निगल सकते चबाना नहीं है और पानी के साथ भी लिया जा सकता है। इस दवाइयों को एक समय अंतराल में लिया जा सकता है। यदि आप की कोई खुराग छूट गई है तो यूज़ जल्द से जल्द लेने की कोशिश करे पर ध्यान रहे की आप की अगली खुराक का क्या टाइम है। यदि उसका टाइम हो गया है तो पहली वाली खुराक को छोड़ दे। क्योकि खुराग का ओवरडोस होने से इसका साइड इफेक्ट भी हो सकता है।इसका नियमित रूप से सेवन करना चाहिए। दवाइयों को सीधे प्रकाश के संपर्क से दूर रखना चाहिए। दवाइयों को फ्रिज में रखना नहीं चाहिए। दवाइयों को बच्चो और पालतू जानवरो से दूर रखना चाहिए।

सेफीक्सीमी टेबलेट का उपयोग आप निचे दिए गए बीमारियों के इलाज के लिए भी कर सकते है।

१) बेक्टेरियल इंन्फेक्शन

२) ब्रोकनियल  इंन्फेक्शन

३) किडनी इंन्फेक्शन

४) कान, नाक के इंन्फेक्शन

५) मूत्र इंन्फेक्शन

६) टॉंसिलाइटिस इंन्फेक्शन

७) गुर्दे के इंन्फेक्शन

सेफीक्सीमी टेबलेट के साइड इफेक्ट (Cefixime Tablet Side Effect in Hindi)

सेफीक्सीमी टेबलेट (cefixime tablet side effect in Hindi) के वैसे तो कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होते है परन्तु यदि आप इस टेबलेट का यूज़ अधिक मात्रा में करते हो तो आप को इसका साइड इफेक्ट हो सकता है। यदिआप को कुछ समस्याएं होती है तो सबसे पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेना चाहिए।सेफीक्सीमी टेबलेट से होने वाले साइड इफेक्ट निम्नलिखित है।

  • पेट दर्द करना।
  • सिर में दर्द होना।
  • उल्टी होना।
  • सास लेने में दिक्कत होना
  • एलर्जी
  • कब्ज या दस्त लगना।

सेफीक्सीमी टेबलेट की सामग्री (Cefixime Tablet Ingredients in Hindi)

दवा में कई प्रकार के सक्रीय तत्व होते है। जो समस्या के दौरान शरीर में होने वाले गतिविधियों को कम करके उसे काम कर देते है। जिससे हम स्वास्थ हो जाते है। इन दवाइयों में भी कुछ सक्रीय तत्व होते है जो निम्न लिखित है।

  • Cefixime-200mg
  • Ofloxacin-200mg

बाजार में इससे संबधित और भी कई दवाइया है जिसके जैसा ही कार्य करती है।

सेफीक्सीमी टेबलेट की सावधानिया (Precaution of Cefixime Tablet in Hindi)

किसी भी दवा का सेवन करने से पहले इनके कुछ आवश्यक बातो पर ध्यान देना चाहिए। यदि आप सेफीक्सीमी टेबलेट का उपयोग कर रहे हो तो निम्नलिखित बातो का ध्यान रखना चाहिए।

  • दवा का सेवन करते समय दूध और डेयरी वस्तुओं का उपयोग नहीं करे।
  • यदि आप को किसी भी प्रकार की दवा से एलर्जी है तो डॉक्टर से अवश्य जानकारी ले।
  • दवा इस्तेमाल करते समय किसी भी प्रकार की नशीली पदार्थो का सेवन न करे ।
  • दवा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य ले।
  • अगर आप को किसी भी प्रकार की समस्या है तो इस दवाई का यूज करने से पहले डॉक्टर से अवश्य जानकारी ले।

 

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*