इंटाजेसिक एम आर टैबलेट क्या है? जानिए इसके फायदे, उपयोग और नुकसान | Intagesic MR Tablet Benefits and Side Effect in Hindi

इंटाजेसिक एमआर (Intagesic MR Tablet in Hindi) टैबलेट को “इंटस फार्मा कंपनी” द्वारा निर्मित किया जाता है। इंटाजेसिक एमआर टेबलेट का इस्तेमाल मांसपेशियों में दर्द, जोड़ो में दर्द, सिरदर्द, दांत का दर्द, मोच आदि बीमारियों के इलाज के लिए किया जाता है। अब में आपको बताउगा इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के उपयोग, लाभ और इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के नुकसान के बारे में।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के लाभ और उपयोग  (Benefits & Uses of Intagesic MR Tablet in Hindi)

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के फायदे और उपयोग किन किन बीमारियों में किया जाता है। इसके बारे में हम आपको निचे बताएगे।

  • दर्द
  • मोच
  • जोड़ो में दर्द
  • सिरदर्द
  • मांसपेशियों में दर्द
  • दांत में दर्द
  • गठिया संबंधी दर्द
  • गाउट
  • ऑस्टियोआर्थराइटिस
  • गठिया संबंधी दर्द
  • बदन में दर्द
  • टांगो में दर्द
  • माइग्रेन
  • कंधे में दर्द
  • पैरो में दर्द
  • साइटिका
  • कान में दर्द
  • कलाई में दर्द
  • आँखों में जलन
  • आँखों में सूजन
  • बुखार
  • वायरल फीवर
  • स्लीप डिस्क
  • चिकनगुनिया
  • प्रेग्नेंसी में कमर दर्द
  • प्रेग्नेंसी में बुखार
  • मलेरिया
  • डेंगू

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट से सावधानियां (Precautions of Intagesic MR Tablet in Hindi)

  • अगर आपको NSAIDs या क्लोरोजॉक्सजोन से सम्बंधित दवाइयों से एलर्जी है तो आप इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का सेवन बिलकुल नहीं करें।
  • अल्सर से पीड़ित मरीज, इंटाजेसिक एमआर पेट, कोलन और गुदा में गंभीर सूजन का कारण भी बन सकता है।
  • इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का उपयोग जन्म से हदय रोग पीड़ित बच्चों के लिए नहीं करना चाहिए।
  • अस्थमा वाले मरीज भी इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का सेवन बिलकुल नहीं करें।
  • गंभीर यकृत रोग से पीड़ित मरीज भी इस दवाई का सेवन बिलकुल नहीं करें।
  • किडनी पीड़ित मरीजों को भी इंटेजेसिक एमआर टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • इस दवाई को हमेशा डॉक्टर के अनुसार ही सेवन करें।
  • इस टैबलेट को इस्तेमाल करने के दौरान समय समय पर अपना BP चेक करते रहे।
  • गुर्दे से पीड़ित मरीज इस दवा के इस्तेमाल से बचे।

इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के दुष्प्रभाव (Side Effects of Intagesic MR Tablet in Hindi)

नीचे इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के आपको दुष्प्रभाव बताये गए है। इनमे कुछ दुष्प्रभाव ऐसे है जो गंभीर भी हो सकते है। अगर आपको नीचे बताये गए में से कोई भी दुष्प्रभाव का पता चलता है तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

आइये जानते है इंटाजेसिक एमआर टैबलेट के दुष्प्रभाव

  • भूख में कमी
  • पेट फूलना
  • दिल में जलन
  • दस्त
  • रूखी त्वचा
  • चक्कर आना
  • सिरदर्द
  • घबराहट
  • पेट दर्द
  • कब्ज
  • त्वचा पर लाल चकत्ते
  • उलटी

अगर आपको इसके अलावा कोई दुष्प्रभाव होता है तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

इंटाजेसिक एम आर टैबलेट की खुराक (Dosage of Intagesic MR Tablet in Hindi)

अब में आपको बताउगा की इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का सेवन और कितना डोज़ में करना चाहिए।

  • जब भी आप इंटाजेसिक एमआर टैबलेट का सेवन करें तो एक बार में पूरा टैबलेट निगल जाए।
  • टैबलेट को कभी भी मुँह में लेने के बाद दांतो से न चबाये।
  • इस दवा का सेवन करने के पहले अपने डॉक्टर को बताये और उनके अनुसार ही दवाई का सेवन करें।
  • इंटेजेसिस एमआर टैबलेट का सेवन दिन में दो-तीन बार करें या अपने डॉक्टर के निर्देश के अनुसार करें।
  • 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चे इस दवाई को लेने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
  • हमेशा डॉक्टर की सहमति के अनुसार ही दवाइयों का सेवन करें और लंबे समय तक इस टैबलेट का उपयोग नहीं करना चाहिए।
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*