कौंच बीज के फायदे और नुकसान | Kaunch Beej Uses in Hindi

Kaunch Beej Uses in Hindi

कौंच बीज (Kaunch Beej in hindi) के फायदों को प्राचीन काल पहले ही पहचान लिया गया था। कौंच बीज (Kaunch Beej in hindi) एक आयुर्वेदिक दवाई है। इस दवाई का वैज्ञानिक नाम मुकुना प्रुरिएंस (Mucuna Pruriens) है। यह बहुत प्रसिद्ध आयुर्वेद की जड़ी बूटी है। कौंच बीज हमको बहुत सारी चीज़ो मै काम आती है और इसके बहुत सारे बेनिफिट्स है जो मै आज मै आपको बताउगा।

कौंच बीज के फायदे और नुकसान – Kaunch Beej Benefits and Side Effects in Hindi

Kaunch Beej Uses

कौंच की बेल हमारे देश मे आराम से मिल जाती हैं। कौंच की बेल पेड़ और झाड़ियों का सहारा लेकर उन पर छा जाती है। ये बेल अनेक शाखाओ वाली होती है और इसकी उम्र 1 वर्षीय होती है। इसके पत्ते 6-9 इंच लम्बे रूप मै तीन पत्तो मै होते है। इसके पुष्प एक से डेढ़ इंच लम्बे, बैगनी और नील रंग के होते है। इसमें 2-4 इंच लम्बी फली और और लगभग आधा इंच चौड़ी होती है ये फलिया गुछो के अंदर लगती है और इसमें हर फली के अंदर चिकने, चपटे, चमकीले रक्त की आभायुक्त 5-6 बीज निकलते है। इन बीजो का छिलका मजबूत और काफी कड़क होता है। जैसे ही आप इसका छिलका हटाओगे तो उसके अंदर एक सफ़ेद गिरी निकलती है उसको ही औषधि मै प्रयोग की जाती है।

टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाए कौंच के बीज के गुण – Kaunch Beej Increases Testosterone

 

Kaunch Beej Increases Testosterone

टेस्टोस्टेरोन पुरुषो और महिलाओ दोनों के योन प्रदर्शन के लिए अहम भूमिका निभाता है| पुरुषो के मुकाबले महिलाओ मे टेस्टोस्टेरोन का उत्पादन कम होता है। कौंच बीज महिलाओ और पुरुषो के लिए कामोद्दीपक का काम करता है| इसके अंदर प्रोलेक्टिन नामक हार्मोन पाया जाता है। महिलाओ मे टेस्टोस्टेरोन बहुत कम होता है लेकिन एस्ट्रोजन के कारण इसकी मात्रा शरीर मे बढ़ भी जाती है। वैसे प्रोलेक्टिन शरीर मे टेस्टोस्टेरोन का प्रतिरोध करने के लिए जानते है। वैसे ये प्रोलेक्टिन फंक्शन को उत्तेजित करने वाली का एक दुष्प्रभाव भी है ये पुरषो मै नपुंसकता और महिलाओ मे कामेच्छा को भी करने मे काम करता है।

कौंच बीज के फायदे सेक्स टाइम बढ़ाने के लिए – Kaunch Beej Benefits for longer Sexual Drive in Hindi          

Kaunch Beej Benefits for longer Sexual Drive in Hindi 

कौंच बीज (Kaunch Beej in hindi) का उपयोग हम थकान, यौन इच्छा की कमी और उसे बढ़ाने के लिए उपयोग मे लेते है। कौंच के बीज यौन पीड़ा के लिए बहुत ही शक्तिशाली होती है। कौंच बीज टेस्टोस्टेरोन और सामान्य रूप से शारीरिक हार्मोन को वापस करने और सेक्स टाइम बढ़ाने के लिए मदद करता है।

कौंच के बीज का चूर्ण अच्छी नींद के लिए – Kaunch Beej Benefits for Better Sleep in Hindi

Kaunch Beej Benefits for Better Sleep in Hindi

डोपामाइन मस्तिष्क मै काम करने के लिए बहुत महत्वपूर्ण प्रक्रिया निभाता है और ये नींद के सपनो से भी संबधित रहता है। एक अध्ययन मै पता चलता है की मस्तिष्क मै डोपामाइन की कमी के कारण भी नींद पूरी नहीं होती है। यह भी माना जाता है की डोपामाइन की कमी के साथ साथ तनाव और बेचैनी से भी आपकी नींद पर बहुत नुकसान होता है।

अगर आप कौंच बीज (Kaunch Beej in hindi) के पाउडर का उपयोग करते है तो इससे नींद भी अच्छी आती है। डोपामाइन का हमारे शरीर मै बढ़ना हमारे शरीर मै दुष्प्रभाव छोड़ सकता है इसलिए इसका उपयोग कम मात्रा मै ही करना चाहिए और इसको सोने से पहले उपयोग करने पर ये बहुत ही लाभकारी होती है।

कौंच के बीज के फायदे पीठ दर्द मै भी लाभकारी – Kaunch Beej Benefits for Back Ache in Hindi

गाय के दूध के साथ 5 ग्राम मुकुना के पाउडर मे 1 चम्मच घी और आधी चम्मच शक्कर मिलाई जाती है जिससे बुढ़ापा और दुर्बलता की परेशानी को दूर किया जा सकता है।

कौंच बीज के अन्य लाभ – Kaunch Seeds other benefits and Uses in Hindi

  • कौंच के बीज महिलाओ और पुरुषो मै काम करने की इच्छा और सेक्स ड्राइव बढ़ता है।
  • कौंच बीज का पाउडर शुक्राणु बढ़ाने मै भी बहुत काम आता है।
  • इसके अलावा ये जोड़ो और पेट के दर्द के लिए भी बहुत फायदेमंद रहता है।
  • कौंच के बीज डिप्रेशन और तनाव को भी काम करता है।
  • इसमें एंटी डिप्रेशन जैसे गुड़ भी होते है
  • कौंच बीज शरीर के पाचन प्रणाली को भी सुधरता है।

कौंच बीज के नुकसान – Kaunch Beej ke Nuksaan in Hindi

आमतौर पर कौंच के बीज को बहुत फायदेमंद माना जाता है और काम डोपामाइन के स्तर और अन्य स्वास्थ लाभ दिलाने के लिए बहुत फायदेमंद भी है पर इसके कुछ नुकसान भी है जिनके बारे मै आपको पता होना चाहिए।

  • जिन लोगो को पागलपन, लीवर, किडनी रोग और मानसिक रोग की समस्या है उन्हें कौंच के बीज का इस्तेमाल करने मै विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता है।
  • अगर आपके शरीर मै कौंच के बीज खाने के बाद असामान्य प्रक्रिया होने लगती है तो आपको पता चल जाता है ऐसे ही कौंच के बीज के बाद भी आपको कुछ असामन्य प्रक्रिया दिखने लगती है।
  • कौंच के सेवन के बाद आप खट्टा, मसालेदार और सूखे पदार्थो को नहीं खाना चाहिए। यह रक्त शंकरा के स्तर को भी काम करता है।
  • बहुत बार कौंच के सेवन करने से लोगो के मांसपेशियों अनैच्छिक गति भी देखी जा सकती है इसके कारण आपके हाथ पैर के मूवमेंट मै गड़बड़ी आ सकती है।
  • कौंच के बीज को बच्चो से दूर ही रखे। स्तनपान करने वाली महिलाओ और गर्भवती महिलाओ को कौंच से बनी कोई भी दवाई नहीं लेनी चाहिए और अगर आवश्यकता पड़े तो अपने डॉक्टर से तुरंत परामर्श करे।
  • अगर आप मधुमेह का स्तर कम कर सकते है और जो लोग मधुमेह की दवा का सेवन कर रहे है जहां तक संभव हो सके तो अपने डॉक्टर या किसी विशेषग की देख रेख मै ही इस दवा को ले।
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*