निरी सिरप क्या है? इसके फायदे,उपयोग और नुकसान | Neeri Syrup Use and Benefits in Hindi

neeri syrup in hindi

Neeri Syrup in Hindi एक आयुर्वेदिक उपचार होता है। इसका निर्माण विभिन्न प्रकार की जड़ीबूटियों से मिलकर बनाया जाता है। यह एक वैज्ञानिक अवधारणा होती है। इसका उपयोग विभिन्न प्रकार की बीमारिया जैसे:-मूत्र मार्ग में संक्रमण,गुर्दे की पथरी,मूत्र में जलन,मूत्र त्यागने में परेशानी, मूत्र या गुर्दे की पथरी,पित्त सबंधी पथरी,आंत में एक प्रकार का फोड़ा और अन्य बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है। इस पोस्ट के माध्यम से हम जानेगे की निरी सिरप का इस्तेमाल कहाँ-कहाँ किया जाता है। इसके उपयोग करने से फायदे और नुकसान क्या है।

निरी सिरप के फायदे और उपयोग (Neeri Syrup Benefits and Uses in Hindi)

निरी सिरप का उपयोग (neeri syrup uses) आमतौर पर तो पथरी से सबंधित बीमारियों के इलाज में इस्तेमाल की जाती है|निम्नलिखित बीमारियों के इलाज के लिए भी निरी सिरप का उपयोग किया जाता है।

उपरोक्त सूचीबद्ध की गई बीमारियों के अलावा इस दवाई का उपयोग अन्य बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है। लेकिन ध्यान रहे इस दवाई का उपयोग करने से पहले डॉक्टर या किसी विशेषज्ञ की सलाह अवश्य ले।

संरचना और सक्रीय सामग्री (Ingredients of Neeri Syrup in Hindi)

निरी सिरप में निम्नलिखित सामग्री का उपयोग किया जाता है|

  • शिलाजीत पूरीफील्ड (Shilajit Purifield) -200Mg
  • सेंधा नमक (Sendha Namak) – 50Mg
  • सलसोला स्टोक्सी (Salsola Stocksii) – 50Mg
  • स्वेट परपति (Shweta parpati) – 25Mg
  • पाइपर कुबेबा (Piper Cubeba) – 100Mg
  • Moolishar –  150Mg
  • Panchtrin Mool – 500Mg
  • Boerhaavia Diffusa – 500Mg
  • Tribulus Terrestris – 450Mg
  • Solanum Nigrum – 100Mg
  • Butea Monosperma – 100Mg
  • Mimosa Pudica – 100Mg

उपरोक्त दी गई सूचीगत सामग्री के अलावा और भी अन्य सामग्री का उपयोग निरी सिरप के निर्माण में किया जाता है।

निरी सिरप के दुष्प्रभाव/ नुकसान (Neeri Syrup Side Effect in Hindi)

निरी सीरप का उपयोग करने से साइड इफ़ेक्ट या नुकसान भी होते है। इसलिए इस दवाई का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। इस दवाई का उपयोग आयुर्वेदिक दवाई के रूप में भी किया जाता है। इसलिए आप किसी आयुर्वेदिक जानकर व्यक्ति से भी इसके बारे में जानकारी ले सकते हो। इस दवाई से होने वाले साइड इफ़ेक्ट निम्नलिखित है।

  • गुर्दा विकार।
  • उच्च रक्तचाप।
  • पेशाब जलन

यदि आप को कभी ऐसे दुष्प्रभाव का एहसास हुआ तो आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे।

निरी सिरप की सावधानियाँ (Neeri Syrup Precaution in Hindi)

यदि आप निरी सिरप का उपयोग करते है तो, इसके उपयोग करने से पहले इसके सावधानियों के बारे में अवश्य जान ले। यदि आप ऐसा नहीं करते है तो यह आप को प्रभावित कर सकती है| इसलिए इस दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। इस दवाई का सेवन करने से पहले निम्नलिखित सावधानियों का पालन करना आवश्यक है।

  • यदि आप बीमार है, तो इस दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • इस दवाई को बच्चे से दूर ही रखे।
  • यदि आप को इस दवाई में मौजूद सामग्री से एलर्जी है तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • एल्कोहल के साथ इस दवाई का सेवन करने से बचे, अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क कर सकते हो।
  • गर्भवस्था के दौरान इस दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • यदि आप कोई विटामिन या अन्य दवाई का सेवन कर रहे हो, तो इस दवाई का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • स्तनपान के समय इस टैबलेट का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।

निरी सिरप का इस्तेमाल कब नहीं करना चाहिए (When Not to use Neeri Syrup in Hindi)

निरी सिरप अतिसंवेदनशील एक निषेध होती है। इसके अतिरिक्त यदि आप को निम्नलिखित समस्याए है तो इस दवाई का सेवन नहीं करना चाहिए या इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए।

यदि आप को उपरोक्त में से किसी किसी भी लक्षण का आभास हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे और उनसे सलाह ले।

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*