अल्ट्रासेट टैबलेट का उपयोग, नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स | Uses, Benefits, and Side Effects of Ultracet Tablet in Hindi

utracet tablet in hindi

अल्ट्रासेट टैबलेट (ultracet tablet in hindi) जनसेन फार्मासूटिकल द्वारा निर्मित ड्रग है। इसे सबसे ज्यादा बुखार के इलाज में काम में लिया जाता है। ये सिरदर्द, जोड़ो में दर्द, गठिया, दाँत दर्द और पीठ दर्द दूर करने के लिए किया जाता है। यह बुखार के कारण शरीर में होने वाले दर्द को भी कम करता है। यह दवाई अक्सर कैंसर से पीड़ित रोगियों को ज्यादा दी जाती है, ताकि वो दर्द का सामना कर सके। नीचे लेख में आप अल्ट्रासेट टैबलेट के फायदे, साइड इफ़ेक्ट, खुराक और उपयोग की जानकारी प्राप्त करेंगे।

अल्ट्रासेट टैबलेट का उपयोग – Uses of Ultracet Tablet in Hindi

अल्ट्रासेट टैबलेट का उपयोग नीचे बताई गयी दिक्कतों में किया जाता है-

  • बुखार
  • सर दर्द
  • जोड़ो का दर्द
  • दर्द
  • कमर दर्द
  • स्लिप डिस्क
  • दाँत का दर्द
  • डेंगू
  • मलेरिया
  • चिकनगुनिया
  • पैरो मे दर्द
  • साइटिका
  • मोच
  • एड़ी मे दर्द
  • कलाई मे दर्द
  • माइग्रेन
  • वायरल फीवर
  • प्रेगनेंसी मे कमर दर्द
  • प्रेगनेंसी मे सर दर्द
  • प्रेगनेंसी मे दर्द
  • प्रेगनेंसी मे बुखार
  • हाथ मे दर्द

अल्ट्रासेट टैबलेट के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स – Side Effect of Ultracet Tablet in Hindi

अल्ट्रासेट टैबलेट की सभी सयोंजित सामग्रियों से हो सकते है। यह व्यापक सूचि नहीं है। लेकिन ये दुष्प्रभाव संभव है, लेकिन जरुरी नहीं की ये हमेशा ही हो। अगर आपको निम्नलिखित मे से कोई दुष्प्रभाव का पता चलता है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करे।

  • खुजली
  • थकान
  • चक्कर आना
  • उलटी
  • मुंह सूखना
  • कब्ज
  • मतिभ्रम
  • मूत्र प्रतिधारण
  • उलझन
  • सर दर्द
  • सूजन
  • लाल चकत्ते
  • सांस लेने मे तकलीफ
  • लिवर की श्रति
  • दस्त
  • भूख कम लगना
  • एनीमिया
  • पीलिया
  • एरिथमा
  • एडिमा

अगर आपको ऐसे किसी भी दुष्प्रभाव का पता चलता है जो ऊपर सूचीबृद्ध नहीं किया गया है। तो तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह ले।

सावधानियां

जब भी आप इस दवा का प्रयोग करे उससे पहले, अपने डॉक्टर को अपनी वर्तमान दवाओं, अनिदेर्शित उत्पादों एलर्जी, पहले से मोजूद बीमारियों और वर्तमान स्वास्थ स्थितियों के बारे मे जानकारी प्रदान करे। हमेशा अपने डॉक्टर के निर्देशों के अनुसार ही दवा का सेवन करे। खुराक आपकी स्थिथियो पर आधारित होनी चाहिए। अगर आपकी इस्तिथि मे कोई सुधार नहीं होता है या अगर आपकी हालत ज्यादा ख़राब हो जाती है तो तुरंत अपने डॉक्टर को बताये।

इन बीमारियों से ग्रस्त हो तो अल्ट्रासेट टैबलेट ना ले और सावधानी बरते – Ultracet Contraindications in Hindi

इसमें से आपको कोई भी रोग हो तो, अल्ट्रासेट टैबलेट का सेवन ना करे इससे आपकी स्थिति और बिगड़ सकती है। अगर आपके डॉक्टर उचित समझे तो ही आप इन रोग से ग्रसित होने के बावजूद अल्ट्रासेट टैबलेट का सेवन करें –

  • गुर्दे की बीमारी
  • लिवर रोग
  • डिप्रेशन
  • दमा
  • लिवर रोग
  • ड्रग एलर्जी
  • सदमा
  • शराब की लत
  • न्युट्रोपेनिया

अल्ट्रासेट टैबलेट की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां – Ultracet Tablet in Hindi

खुराक छूटना :- अगर आपकी कोई खुराक छूट जाती है तो याद आने पर तुरंत उसका सेवन करे। अगर अगली खुराक का समय निकट है तो छुटी हुई खुराक छोड़ दे और अपना नया शेडूल बना ले। छुटी हुई दवा की भरपाई के लिए अतिरिक्त दवा का सेवन ना करें। अगर आप रोज दवा लेना भूल जाते है तो अलार्म लगाए या अपने परिवार के किसी व्यक्ति को याद दिलाने के लिए कहे। अगर आपने बहुत सारी खुराकें छोड़ दी है तो छुटी हुई दवाओं की भरपाई के लिए और नए समय के बारे मे चर्चा के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

अल्ट्रासेट टैबलेट की अधिक मात्रा – Over Dose of Ultracet Tablet in Hindi

  • अल्ट्रासेट टैबलेट के ज्यादा सेवन से शरीर मे हानिकारक प्रभाव हो सकते है जैसे की उलटी, मतली, भूख, पेट दर्द जैसी समस्या होती है और बाद मे लक्षणो मे त्वचा और आंखे मे पीला पैन आ जाता है। गहरे रंग के मूत्र मे दर्द होता है और पेट मे दर्द होता है।
  • कभी भी खुराक का सेवन ज्यादा ना करें। ज्यादा दवा खाने से लक्षणो मे सुधार नहीं होगा, बल्कि इससे गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते है। अगर आपको लगता है की आपने अल्ट्रासेट टैबलेट का ज्यादा सेवन कर लिया है तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या हॉस्पिटल मे जाए और अपनी परिस्तिथि बताए।
  • अगर आपको लगता है किसी व्यक्ति की स्थिति आपके समान है या उसकी बीमारी आपके जैसी है तो कभी भी अपनी दवाई दूसरे लोगो को ना दें। इसकी वजह से अधिमात्रा हो सकती है।

 

 

 

 

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*