अनवांटेड किट क्या है ? | Unwanted Kit Use in Hindi

unwanted kit use in hindi

अनवांटेड किट टेबलेट (unwanted kit in hindi) का उपयोग महिलाओं के ऑबर्शन (pregnancy rokne ke upay) के लिए किया जाता है। अनवांटेड एक टेबलेट होती है जो 200 Mg में हर किसी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध होती है। इस अनवांटेड किट का उपयोग उन महिलाओं के लिए की जाती है, जो २-५ हप्तो से या ५० दिन पहले से प्रेग्नेंट है। अनवांटेड किट टेबलेट का प्रयोग मिसोप्रोस्टोल को मिलाने में यूज़ किया जाता है। अनवांटेड किट टेबलेट को RU – 480  के नाम से भी जाना जाता है। यह टेबलेट एक सिंथेटिक स्टेरॉयड होती है,जो हार्मोन के साथ मिलकर काम करती है। अनवांटेड किट का उपयोग अपातकालीन गर्भपात, गर्भव्यस्था का अंत, मासिक धर्म के परिवर्तन, भ्रूण की मृत्यु में प्रसव, नार्मल डिलीवरी आदि उपचारो में अनवांटेड किट 200mg का उपयोग किया जाता है। अनवांटेड किट टैबलेट उन महिलाओं के लिए भी फायदेमंद है जो गर्भवती नहीं बनना चाहती है या अपने गर्भ को निकालना चाहती है। इस टेबलेट का यूज़ करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।

वैसे तो इस टेबलेट को लेने से महिलाओं कोई ज्यादा परेशानी नहीं होती है। इसको लेने से आप के प्राइवेट अंग या योनि से खून निकलता है , और यह बहुत अधिक मात्रा में भी हो सकता है। जिसके कारन आप को खून की कमी, कमजोरी, थकान, बुखार आदि समस्याए हो सकती है। इसलिए यह आवश्यक है की अनवांटेड टेबलेट का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। क्योकि यह आप के लिए फायदेमंद है। डॉक्टर गर्भ को चेक करके या यह कितने महीने का है यूज़ चेक करने के बाद ही देते है।

अनवांटेड किट के उपयोग (Unwanted Kit Uses in Hindi)

अनवांटेड किट का उपयोग महिलाओं के गर्भपात या ऑबर्शन के लिए किया जाता है। और भी कुछ निम्नलिखित ऐसी बीमारिया, लक्षण या समस्याए होती है जिनके इलाज के लिए अनवांटेड किट 200mg टेबलेट का उपयोग किया जाता है।

  • मासिक धर्म में परिवर्तन
  • गर्भपात / ऑबर्शन में।
  • गर्भवस्था का अंत
  • क़ानूनी गर्भपात
  • स्तन कैंसर
  • भ्रूण की मृत्यु के बाद प्रसव
  • रक्त की हानि में।
  • अस्थानिक गर्भवस्था में।
  • गर्भाशय सबंधी लियोमायोमा
  • जठर -सबंधी छाले
  • ग्रहणी व्रण
  • समय अमाशय छाला
  • प्रोजेस्टीरोन निर्भर दुर्दमताए
  • कुशिंग संलक्षण
  • रक्त की हानि

अनवांटेड किट का यूज़ कैसे करते है।

अनवांटेड किट में 5 टैबलेट होती है। जिसमे एक टेबलेट मिफेप्रिस्टोन 200mg की हटी है और बाकि बची हुई चार गोलिया मैजोप्रोस्टल 0.2mg की होती है। सबसे पहले मिफेप्रिस्टोन गोली को खली पेट लिया जाता है| इस गोली के सेवन के बाद प्रेग्नेंसी के लिए जरुरी हार्मोन प्रोजेस्ट्रोन को बढ़ने से रोकता है। उसके 24 -48 घंटो के अंदर बची हुई गोलियों का सेवन करना पड़ता है।

इस अनवांटेड किट का यूज़ करने से आपका सर्विक्स मुलायम हो जाता है जिससे आप के प्राइवेट अंग से ब्लीडिंग शुरू हो जाती है। जिससे गर्भाशय से गर्भ ब्लीडिंग के द्वारा बाहर निकल जाता है। यदि आप इन गोलियों का सेवन अच्छे से नहीं करते है तो यह अपना असर नहीं दिखती है। ब्लीडिंग ख़त्म होने के बाद आप के अपना अल्ट्रासाउंड का भी चेकउप करवा लेना चाहिए। इससे आप के पता चल जाता है की आप का गर्भ अच्छे से साफ हुआ है की नहीं। और हा इस बात का ध्यान रहे की अनवांटेड किट का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।

संरचना और सक्रीय सामग्री

अनवांटेड किट को निम्नलिखित औषधीय सामग्री से निर्मित किया जाता है।

  • मिफेप्रिस्टोन (Mifepriston) 200mg
  • मैसोप्रोस्टोन (Misopriston) 200mg

अनवांटेड किट के साइड इफ़ेक्ट / दुष्प्रभाव (Unwanted kit Side Effect in Hindi)

अनवांटेड किट (unwanted kit use in hindi) का उपयोग करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले क्योकि यदि आप बिना किसी की सलाह से इस गोली का सेवन करते है तो आप को इसके कुछ निचे बताए गए साइड इफ़ेक्ट या दुष्प्रभाव हो सकते है।

  • योनि से अधिक रक्तस्त्राव
  • शरीर में कमजोरी आना।
  • बुखार
  • उलटी
  • पेटदर्द
  • जोड़ो में दर्द
  • कमर दर्द
  • गर्भाशय से सबंधित परेशानिया
  • चक्कर आना
  • मचलाहट होना

यदि आप को ऊपर बताए गए लक्षणों में से किसी भी एक के होने का महसूस हो रहा हो तो आप तुरंत डॉक्टर के पास जाए और उनसे सलाह ले।

अनवांटेड किट से सावधानियाँ (Unwanted Kit Precaution in Hindi)

अनवांटेड किट (unwanted kit use in hindi) का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य ले। यदि आप पहले से ही किसी विटामिन या अन्य दवाइयों का यूज़ कर रहे हो तो, इसको लेने से पहले डॉक्टर से जानकारी ले उसके बाद ही इसका सेवन करे। इस टेबलेट के ऊपर कुछ निर्देश दिए गए है उनको अच्छी तरीके से पढ़े उसके बाद ही इसका उपयोग करे। इससे सबंधित निचे भी कुछ सावधनिया सूचीगत की गई है।

  • यदि आप को चक्कर आ रहे है तो मिसोप्रोस्टोल का उपयोग करना बंद कर दे।
  • अत्यधिक रक्तस्त्राव
  • उच्च रक्तचाप से ग्रस्त विकार
  • यदि आप को किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव महसूस हो रहा हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे।
  • मिसोप्रोस्टोल टेबलेट लेते समय सिगरेट या किसी भी प्रकार की नशीली पदार्थ का सेवन न करे।
  • हृदय से सबंधित बीमारियों वाली महिलाओं में।
  • यकृत और गुर्दे से सबंधित बीमारी वाली महिलाओं में।
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*