वायजिलेक कैप्सूल क्या है? इसके फायदे, नुकसान और उपयोग | Vizylac Capsule in Hindi

vizylac capsule in hindi

वायजिलेक कैप्सूल (Vizylac Capsule in Hindi) का उपयोग मुख्यतः दस्त, विटामिन बी ३ की कमी, योनि में संक्रमण,छोटे बच्चो में दस्त,माशपेशियों में ऐंठन,अल्सरेटिव  कोलारिस, योनि में से सफ़ेद या लाल पानी के अवशेष का बाहर निकलना,आंतो के रोग के बचाव में और अन्य स्थितियों के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है। वायजिलेक कैप्सूल को थियामिन,स्पोरोजेनेस,लैक्टोबेसेलिस,पायरीडॉक्सीन,निकोटिनमाईड,फोलिक एसिड और डी -पेथेनॉल जैसे मिश्रण को मिलाकर बनाया जाता है। आइए इस दवाई के बारे में विस्तार से जानते है की इसका यूज़ कहा किया जाता है। इसके खाने के क्या फायदे और साइड इफ़ेक्ट क्या होते है।

वायजिलेक कैप्सूल के उपयोग और फायदे (Vizylac Capsule Benefits and Uses in Hindi)

वायजिलेक कैप्सूल का उपयोग निम्नलिखित लक्षणों को सुधारने में उपयोग किया जाता है।

  • गठिया
  • योनि में संक्रमण।
  • छोटे बच्चो में दस्त।
  • दस्त
  • मुंहासे
  • विटामिन बी३ की कमी।
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल।
  • दिल की बीमारी
  • अल्सरेटिव कोलाइटिस।
  • त्वचा संबधी विकारो में।
  • आंत रोगो में।
  • भुलने की बीमारी।
  • ग्रीवा कैंसर          (अधिक जानकारी:-कैंसर कैसे होता है? कैंसर के कारण, लक्षण और बचाव के उपाय)
  • मांसपेशियों में ऐंठन।
  • योनि में से सफ़ेद या लाल श्लेष्म का निकलना।
  • मानसिक विकार।
  • त्वचा की मामूली चोटे।
  • बंद धमनियाँ
  • शीघ्रकोपी आंत्र सिंड्रोम।

यह दवा अन्य उपचारो के लिए भी उपयोग की जाती है। इसकी अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर की सलाह ले सकते हो।

वायजिलेक कैप्सूल में इस्तेमाल होने वाली सामग्री (Ingredients of Vizylac Capsule in Hindi)

वायजिलेक कैप्सूल में निम्नलिखित सामग्री के मिश्रण से बनाई जाती है।

  • Thiamine – 2.5MG
  • Pyridoxine – 0.75MG
  • Nicotinamide 22.5 MG
  • Folic Acid – Vitamin B9-500MCG
  • Lacto Bacillus sporegens – 40Million Spores
  • D- Panthenol -2.5 MG

वायजिलेक कैप्सूल के दुष्प्रभाव / नुकसान (Vizylac Capsule Side Effect in Hindi)

वायजिलेक कैप्सूल के आमतौर पर कोई नुकसान नहीं होते है। परन्तु किसी भी चीच की अति हमेशा नुकसान दायक होती है। इसके साइड इफ़ेक्ट आप को महसूस नहीं होंगे। यह कैप्सूल प्रत्येक व्यक्ति को अलग -अलग प्रभावित करती है।जब भी आप इस दवाई का यूज़ करे उससे पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले। निम्नलिखित कुछ ऐसे दुष्प्रभाव है जो वायजिलेक कैप्सूल के कारन होते है।

  • सूजन
  • चिचिड़ापन
  • उलटी
  • मचलाहट होना
  • भूख की कमी।
  • दस्त
  • पेट की फैलावट
  • सिरदर्द करना
  • चक्कर आना।
  • बेचैनी होना।
  • शरीर में थकान आना।
  • त्वचा पर जलन
  • नींद न आना।

यदि आप को उपरोक्त दिए गए लक्षणों में से किसी का भी आभास हो तो आप को तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके उन से सलाह लेना चाहिए।

वायजिलेक कैप्सूल कैसे काम करता है। (How Vizylac Capsule work in Hindi)

इस दवाई का उपयोग पेट में होने वाले कीड़े,खून की कमी और विटमिन की कमी होने पर उपयोग की जाती है।अन्य बीमारियों के लिए भी इस दवाई का उपयोग किया जाता है।परन्तु इस बात का ध्यान रहे की इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर या किसी विशेषज्ञ  की सलाह अवश्य ले।

वायजिलेक कैप्सूल के इस्तेमाल करने में सावधानियाँ (Vizylac Capsule Precaution in Hindi)

वायजिलेक कैप्सूल को इस्तेमाल करने से पहले उसके सावधानियों के बारे पता करना बहुत ही आवश्यक होता है। इसके स्ट्रिप पर कुछ दिशा निर्देश लिखे हुए रहते है उनको अवश्य पढ़े। यदि आप पहले से ही किसी अन्य दवाई या विटामिन का सेवन करते है तो इसकी जानकारी डॉक्टर को पहले ही बता ते अन्यथा आप को इससे नुकसान भी हो सकते है। निम्नलिखित कुछ ऐसी सावधानियाँ है जो वायजिलेक कैप्सूल का सेवन करते समय ध्यान रखना बहुत ही आवश्यक है।

  • यदि आप को किडनी या लिवर की परेशानी हो तो इस टेबलेट का सेवन करने से बचे।
  • इस दवाई को ३ वर्ष के बच्चो से दूर ही रखना चाहिए।
  • यदि आप पहले से ही किसी विटामिन या अन्य दवाइयों का सेवन करते है तो इसके पहले डॉक्टर से संपर्क करे।
  • यदि आप को दर्द, सुन्न का अनुभव हो तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • यदि आप इस टेबलेट की सामग्री से एलर्जी है तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • इस टेबलेट का उपयोग प्रेगनेंसी के दौरान नहीं करना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से संपर्क कर सकते है।
  • स्तनपान के समय इस टेबलेट का सेवन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले।
  • एल्कोहल या नशीले पदार्थ के साथ इस टेबलेट का सेवन नहीं कर सकते है।

वायजिलेक कैप्सूल को अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने पर होने वाले लक्षण (Vizylac Capsule overdose Symptoms in Hindi)

यदि आप ने गलती से इस कैप्सूल का अधिक मात्रा में सेवन कर लिया तो आप के शरीर पर इसका दुष्प्रभाव हो सकता है। इसके ओवरडोज़ के लक्षण निम्नलिखिंत है।

  • सिरदर्द करना।
  • होठ और जीभ में सूजन होना।
  • उलटी होना।
  • मतली होना।
  • पेट फूलना
  • चक्कर आना।

यदि आप को उपरोक्त दिए गए लक्षणों में से किसी भी लक्षण का आभास हो तो आप को तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*