गर्भावस्था में योनी से सफ़ेद पानी आने के कारण, लक्षण और इलाज | The Presence of White Water From The Vagina in Pregnancy, Symptoms and Treatment in Hindi

The Presence of White Water From The Vagina in Pregnancy in hindi

माँ बनना हर महिला की ख्वाहिश होती है, और यह उसके लिए भगवान का सबसे बड़ा उपहार होता है| गर्भावस्था के दौरान शरीर में कई तरह के अनुभव और बदलाव आते है, जैसे हार्मोन में बदलाव होना, वजन बढ़ना, सिर दर्द, पेट दर्द, तनाव आदि| ऐसा ही एक बदलाव है गर्भावस्था के दौरान योनी से सफ़ेद पानी आना|

योनी से सफ़ेद पानी (White Water From The Vagina in Pregnancy in hindi) कई तरह का निकलता है जैसे गंधहीन, हल्की गंध वाला, सफ़ेद, भूरा आदि| हालाँकि योनी से सफ़ेद पानी निकलना गर्भवती महिला के लिए अच्छा होता है, क्योंकि इस पानी में मृत कोशिकाएं होती है जिससे योनी साफ़-सुथरी और बैक्टीरिया से मुक्त रहती है|

लेकिन जब सफ़ेद की जगह हरे रंग का पानी आ रहा हो और डिस्चार्ज के समय दर्द हो रहा है और अलग तरह की गंध आ रही है तो यह नुकसानदायक हो सकता है| इससे संक्रमण होने का खतरा रहता है| आईये जानते है योनी से सफ़ेद पानी निकलने का कारण, लक्षण और इलाज क्या है?

योनी से सफ़ेद पानी आने के कारण (Causes of White Water From The Vagina in Hindi)

  • प्रेगनेंसी में महिला के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन का लेवल बढ़ जाता है, जिसकी वजह से योनी से सफ़ेद पानी आने लगता है|
  • जैसे-जैसे बच्चे का विकास होता है तो उसका सिर से गर्भाशय ग्रीवा पर दबाव बढ़ता है जिसकी वजह से योनी से सफ़ेद पानी आने लगता है| ऐसा प्रेगनेंसी के अंतिम चरण में होता है|
  • गर्भावस्था के दौरान योनी की दीवार नरम हो जाती है, जिसकी वजह से भी योनी से सफ़ेद पानी आने लगता है|
  • योनी में किसी तरह के संक्रमण की वजह से भी पानी आ सकता है जैसे योनी में खुजली, सुजन, संभोग के दौरान दर्द आदि|
  • मासिक धर्म का समय पास आने पर योनी से सफ़ेद पानी आने लगता है, इस समय ऐसा होना सामान्य है|

योनी से सफ़ेद पानी आने के लक्षण (Symptoms of White Water Coming From The Vagina in Hindi)

योनी से सफ़ेद पानी आने का इलाज (Treatment of White Water Coming From The Vagina in Hindi)

  • तुलसी

तुलसी एक एंटी-ओक्सिडेंट युक्त पौधा है, जिसके कई सारे फायदे है| इसका नियमित सेवन करने से योनी से आने वाले सफ़ेद पानी से छुटकारा मिलता है| यौन समस्याओं में भी तुलसी बहुत कारगार है| आप तुलसी की पत्तियों को दूध के साथ ले सकते है|

  • सेब का सिरका

सेब के सिरके में एसिडिक गुण होता है, जिसकी वजह से योनी से सफ़ेद पानी के डिस्चार्ज को रोका जा सकता है, एक गिलास पानी में एक कप सेब का सिरका मिला ले और इससे योनी को दिन में दो बार धोएं|

  • आंवला

2-3 चम्मच आंवले के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर लेने से योनी के संक्रमण से लड़ने की शक्ति मिलती है| योनी से आने वाले सफ़ेद पदार्थ को रोकने में यह अहम भूमिका निभाता है|

  • अनार

अनार के जूस का नियमित सेवन करने से यौन समस्याओं से छुटकारा मिलता है, और गर्भवती महिला के लिए अनार बहुत फायदेमंद है|

  • केला

केले में कई तरह के विटामीन और मिनरल्स होते है, जो यौन ताकतों को बढ़ावा देते है| इसलिए रोजाना 2-3 पके हुए केले खाएं|

  • मेथी

यौन समस्याओं और गर्भवती महिलाओं के लिए मेथी बहुत फायदेमंद है| यह योनी के PH स्तर को भी संतुलित करती है, इसके साथ ही यह महिलाओं के एस्ट्रोजन हार्मोन के लेवल को भी संतुलित करती है| जिससे योनी से सफ़ेद पानी आना बंद हो जाता है| सुखी मेथी को रातभर पानी में भिगो दे, सुबह छान ले और आधा चम्मच शहद डाल दे| अच्छी तरह मिलाने के बाद इसे खाली पेट खा ले|   

  • फिटकरी

फिटकरी को पानी के साथ मिलाकर योनी पर लगायें जिससे योनी से संबधित समस्याओं से छुटकारा मिल सके| फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते है जिसकी वजह से आप नहाते समय इसे योनी पर रगड़ भी सकती है|

  • चन्दन का तेल

1 बड़ा चम्मच चन्दन का तेल गर्म कर ले और गुनगुना होने पर इसे अपनी योनी पर लगा दे, इससे बैक्टीरिया मर जायेंगे और दुबारा जन्म नहीं लेंगे जिससे योनी से संबधित समस्याओं से छुटकारा मिल जायेगा|

इन उपायों को भी जरुर अपनाएं

  • योग और व्यायाम करे|
  • संबध बनाते समय कंडोम का प्रयोग करे|
  • योनी को उपर से निचे की और साफ़ करें|
  • कॉटन के अंडरगारमेंट पहने|
  • ज्यादा टाइट जीन्स ना पहने|
  • अधिक खुशबूदार साबुन का इस्तेमाल योनी में ना करें|
  • शुगर है तो उस पर कण्ट्रोल करें|
  • डॉक्टर से सम्पर्क जरुर करें|
  • किसी भी तरह की दवाई या नुस्खा डॉक्टर की सलाह के बिना  इस्तेमाल न करें|
Please follow and like us:
0

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*